बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन के तहत लोन लेकर अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए अच्छा विकल्प हो सकता हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा से अच्छे रेट प्रति ग्राम व किफायती ब्याज दर पर गोल्ड लोन लिया जा सकता हैं।
गोल्ड लोन के तहत मिलने वाला लोन छोटी अवधि का लोन होता हैं। इसके लिए रिपेमेंट अवधि अधिकतम 3 से 5 वर्ष की होती हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन के तहत भी अधिकतम 3 वर्ष की भुगतान अवधि मिलती हैं। गोल्ड लोन के भुगतान को लेकर थोड़ा सतर्क भी रहना चाहिए। क्योंकि गोल्ड लोन के भुगतान अवधि के दौरान केवल ब्याज का भुगतान किया जाता हैं जबकि भुगतान अवधि के अंत में संपूर्ण लोन राशि का भुगतान करना होता हैं। जिसके कारण एकमुश्त राशि के साथ लोन का भुगतान करना मुश्किल हो सकता हैं।

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन रेट पर ग्राम, बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन इंटरेस्ट रेट, Bank of Baroda gold loan Kaise Le
, ब्याज दर और प्रोसेसिंग फीस
Bank Of Baroda Gold Loan

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन के तहत तेज लोन वितरण प्रक्रिया, कम ब्याज दर, अधिक रेट प्रति ग्राम व भुगतान अवधि विकल्प के साथ तत्काल रकम की जरूरत को पूरा किया जा सकता हैं। इस पेज में आपको बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन के लिए जरूरी जानकारी के साथ साथ गोल्ड लोन के भुगतान में ध्यान रखने योग्य बातों के बारे में भी जानने को मिलेगा।

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन मुख्य बिंदु

ब्याज दर8.75% से शुरू
प्रोसेसिंग फीसलोन की रकम का 0.5%
अधिकतम लोन रकम25 लाख प्रति आवेदक
आयु सीमा18 से 70 वर्ष
अधिकतम भुगतान अवधि36 महीने
रेट प्रति ग्रामसोने की शुद्धता के अनुसार
Bank Of Baroda Gold Loan Features

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन स्कीम

Bank Of Baroda से विभिन्न स्कीम (योजना) के तहत गोल्ड लोन लिया जा सकता हैं। सभी स्कीम में लोन रकम, प्रभावी ब्याज दर, लोन टू वैल्यू रेश्यो (LTV), भुगतान अवधि अलग अलग हो सकती हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन के तहत मुख्य रूप से निम्न प्रकार के लोन लिए जा सकते हैं-

रिटेल गोल्ड लोन: इसके अंतर्गत डिमांड लोन, ओवरड्राफ्ट व ईएमआई लोन के तहत आवेदन किया जा सकता हैं। साथ ही इस स्कीम में कम ब्याज दर पर लोन लिया जा सकता हैं। वहीं महिलाओं के लिए ब्याज दर में अतिरिक्त छूट मिलती हैं।

एग्री गोल्ड लोन: कृषि संबंधी खर्च व अन्य के लिए कैश की आवश्यकता पड़ने पर एग्री गोल्ड लोन के तहत आवेदन किया जा सकता हैं। इसके तहत कैश क्रेडिट व डिमांड लोन लिया जा सकता हैं।

इसे भी पढ़ें- किसान क्रेडिट कार्ड के फायदें क्या क्या होते हैं | KCC Loan की विशेषताएं

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन ब्याज दर

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन के तहत न्यूनतम ब्याज दर 8.75 प्रतिशत होती हैं। लोन स्कीम के अनुसार ब्याज दर गोल्ड लोन स्कीम के अनुसार लागू की जाती हैं। वहीं बीआरएलएलआर व एसपी के आधार पर भी ब्याज दर में उतार चढाव संभव होता हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन के तहत प्रभावी ब्याज दर निम्न प्रकार हैं-

लोन स्कीमन्यूनतम ब्याज दर
डिमांड लोनBRLLR+SP+2.0
6.50+0.25+2.0= 8.75%
ओवरड्राफ्टBRLLR+SP+2.15
6.50+0.25+2.15= 8.90%
ईएमआईBRLLR+SP+2.0
6.50+0.25+2.0= 8.75%

आवेदनकर्ता की रिस्क प्रोफाइल के अनुसार भी ब्याज दर में अंतर हो सकता हैं। वहीं गोल्ड लोन की ब्याज दर कई कारकों से प्रभावित हो सकती हैं जैसे-
आवेदक की इनकम
आवेदक की उम्र
आवेदक की क्रेडिट हिस्ट्री
आवेदक का रेजिडेंशियल एरिया
लोन टू वैल्यू अनुपात
लोन की रकम
लोन की भुगतान अवधि।

इसे भी पढ़ें- बैंक ऑफ बड़ौदा पर्सनल लोन इंटरेस्ट रेट, प्रोसेसिंग फीस, आवेदन कैसे करें?

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन मुख्य विशेषताएं

लोन राशि (Loan Amount)

बैंक ऑफ बड़ौदा सवर्ण ऋण (गोल्ड लोन) के तहत प्रत्येक ऊधारकर्ता के अनुसार अधिकतम 25 लाख रूपए का लोन लिया जा सकता हैं। गिरवी रखें गये सोने के अनुसार भी लोन राशि तय की जाती हैं।

लोन टू वैल्यू अनुपात (LTV)

किसी भी बंधक ऋण के लिए लोन टू वैल्यू अनुपात बहुत महत्वपूर्ण होता हैं। लोन टू वैल्यू रेश्यो के अनुसार ही लोन की रकम तय की जाती हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा सोने की वैल्यू का अधिकतम 75 प्रतिशत लोन मुहैया करता हैं। लोन टू वैल्यू रेश्यो कम होने पर ब्याज दर कम लागू हो सकती हैं जबकि अधिक LTV अनुपात होने पर ब्याज दर भी अधिक होती हैं।

प्रोसेसिंग फीस (Processing Fee)

BOB गोल्ड लोन के लिए आमतौर पर लोन की रकम का 0.5 प्रतिशत प्रोसेसिंग फीस वसूलता हैं। वहीं 3 लाख रुपए तक के लोन के कोई शुल्क नहीं लागू नहीं होती हैं। ओवरड्राफ्ट लोन के लिए 25000 रूपए तक कोई प्रोसेसिंग शुल्क लागू नहीं होती हैं।

भुगतान अवधि (Tenure)

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन की भुगतान अवधि 12 महीने की होती हैं। जबकि ईएमआई स्कीम के तहत लोन लेने पर अधिकतम भुगतान अवधि 36 महीने होती हैं। ब्याज का भुगतान हर महीने किया जाता हैं। जबकि मूलधन का भुगतान लोन अवधि के दौरान कभी भी किया जा सकता हैं।

प्री-पेमेंट विकल्प (Prepayment Option)

गोल्ड लोन के लिए बैंक ऑफ़ बड़ौदा प्री-पेमेंट विकल्प भी देता हैं। साथ ही इसके लिए कोई शुल्क लागू नहीं होता हैं। खासतौर पर गोल्ड लोन के लिए प्री-पेमेंट बहुत महत्वपूर्ण होता हैं। भुगतान अवधि के दौरान कभी भी लोन का भुगतान प्री-पेमेंट के तौर पर किया जा सकता हैं। ऐसा करके ब्याज के भार को भी कम किया जा सकता हैं।

आवश्यक दस्तावेज (Required Documents)

BOB गोल्ड लोन के लिए बहुत कम दस्तावेजों की आवश्यकता होती हैं-
आवेदन फार्म
केवाईसी दस्तावेज
निवास का प्रमाण
व्यवसाय या नौकरी का प्रमाण।

इसे भी पढ़ें- पंजाब नेशनल बैंक लोन अगेंस्ट प्रॉपर्टी: ब्याज दर, पात्रता, आवेदन कैसे करें?

आईसीआईसीआई सेविंग सुरक्षा प्लान, प्रीमियम, मेच्योरिटी फायदे एवं विशेषताएं

बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन पात्रता

  • आवेदनकर्ता भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता की उम्र 18 वर्ष से 70 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदनकर्ता गिरवी रखें जाने वाले गोल्ड का मालिक होना चाहिए।
  • सोने के बने आभूषण व सिक्के ही सिक्योरिटी के तौर पर गिरवी रखे जा सकते हैं।
  • एक आवेदक अधिकतम 50 ग्राम सोने के विरुद्ध लोन ले सकता हैं।
  • आवेदक के पास कम से कम दस ग्राम सोना होना चाहिए।
  • सोने की शुद्धता 18 से 24 कैरेट के बीच होनी चाहिए।

Bank Of Baroda गोल्ड लोन आवेदन कैसे करें?

बैंक ऑफ बड़ौदा से गोल्ड लोन लेने के लिए बैंक की किसी भी शाखा में जाकर अप्लाई किया जा सकता हैं। इसके लिए आवेदन फार्म व सभी जरूरी दस्तावेज होना जरूरी हैं। तथा गिरवी रखें जाने वाले गोल्ड को बैंक में ले जाना होगा। बैंक में गोल्ड लोन अप्लाई करने के पश्चात बैंक के प्रतिनिधि गोल्ड का मूल्यांकन करते हैं। एलटीवी अनुपात व आवेदनकर्ता की प्रोफाइल के अनुसार लोन अमाउंट तय किया जाता हैं। सबकुछ सही होने पर लोन की रकम आवेदनकर्ता को मुहैया करा दी जाती हैं।

वहीं ऑनलाइन लोन अप्लाई करने के लिए बैंक ऑफ़ बड़ौदा की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। गोल्ड लोन के सेक्शन में जाकर फार्म भर सकतें हैं जिसमें आवेदक का नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, पता व बैंक शाखा आदि का विवरण दर्ज करके सबमिट करना है। इसके पश्चात बैंक की तरफ आपके पास काॅल आएगी जिसके बाद गोल्ड लोन की आगे की प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें- कोटक महिंद्रा बैंक होम लोन इंटरेस्ट रेट, प्रोसेसिंग फीस, आवेदन कैसे करें?

BOB गोल्ड लोन के फायदें

Bank Of Baroda से गोल्ड लोन लेने पर बहुत से फायदे हो सकते हैं। जो निम्न प्रकार हैं-

  • बैंक ऑफ इंडिया गोल्ड लोन लेने में बहुत कम समय लगता हैं व लोन लेने की प्रक्रिया सरल हैं।
  • गोल्ड लोन के लिए डिमांड लोन, ओवरड्राफ्ट व ईएमआई स्कीम के तहत आवेदन किया जा सकता हैं।
  • गोल्ड लोन के लिए न्यूनतम वार्षिक ब्याज दर 8.75 प्रतिशत हैं
  • BOB Gold Loan के लिए बहुत कम दस्तावेजों की आवश्यकता होती हैं।
  • गोल्ड लोन के लिए कम सिबिल स्कोर होने पर भी लोन मिल जाता हैं।
  • सोने की वैल्यू का लगभग 75 प्रतिशत तक लोन मिल जाता हैं।
  • BOB गोल्ड लोन के लिए न्यूनतम ब्याज दर 8.75% होती हैं।
  • बैंक ऑफ बड़ौदा के अंतर्गत गोल्ड को सुरक्षित रखने के लिए बखूबी इंतजाम रहते हैं जिसके कारण गोल्ड सुरक्षित रहता है।
  • बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन को समय से पहले पूर्ण-भुगतान करने पर कोई शुल्क लागू नहीं होता हैं। हालांकि कुछ बैंक ऐसा करने पर शुल्क वसूलते हैं।
  • गोल्ड लोन की रिपेमेंट के लिए कई विकल्प होते हैं।

गोल्ड लोन के नुकसान

  • Gold Loan के बहुत से फायदे व विशेषताएं होती हैं। मगर आपको पता होना चाहिए कि गोल्ड लोन के बहुत से नुकसान भी हो सकते हैं जैसे-
  • गोल्ड लोन की अवधि छोटी होती है जिसके कारण लोन चुकाने मे परेशानी हो सकती हैं।
  • गोल्ड लोन की भुगतान अवधि के दौरान सिर्फ ब्याज का भुगतान किया जाता है जबकि भुगतान अवधि के अंत में मूलधन का भुगतान करना होता हैं। जिसके कारण एकमुश्त लोन की रकम चुकाना थोड़ा मुश्किल हो सकता हैं।
  • गोल्ड लोन लेने पर बहुत कम रकम का लोन ही मिल पाता है। जो किसी बड़ी वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए अपर्याप्त होता हैं।
  • गोल्ड लोन के लिए LTV अनुपात कम होता हैं। जिसके कारण गोल्ड की कीमत की तुलना में लोन की रकम बहुत कम होती है।

इसे भी पढ़ें- बैंक ऑफ़ इंडिया गोल्ड लोन इंटरेस्ट रेट, योग्यता, प्रोसेसिंग फीस, आवेदन कैसे करें?

गोल्ड लोन लेते समय किन बातों का ध्यान रखें

एक उधारकर्ता होने के नाते गोल्ड लोन के लिए बहुत सी बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। जिसके किसी भी परेशानी से बचा जा सके। क्योंकि अधिकतर ऊधारकर्ताओं को गोल्ड लोन के तहत परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। इसलिए गोल्ड लोन के तहत निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए-

लोन की रकम (Loan Amount)

हर उधारकर्ता की अपनी अलग अलग जरूरतें हो सकती हैं। इसलिए अपनी जरूरत के अनुसार ही लोन की रकम का चयन करना चाहिए। अधिक रकम का लोन लेने पर अधिक ब्याज चुकाना होता हैं जबकि लोन के भुगतान में भी दिक्कतें आ सकती हैं। लोन लेने से पहले अपनी लिए जरूरी रकम का चुनाव जरूर करें।

लोन लेने का उद्देश्य

गोल्ड लोन लेकर रकम का इस्तेमाल किसी ऐसे काम में नहीं करना चाहिए जिसमें पैसा डूबने की आशंका हो जैसे- सट्टाबाजार, शेयर बाजार आदि। क्योंकि यदि इनमें लोन की रकम का इस्तेमाल किया जाता हैं तो भविष्य में बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं।

बैंक व एनबीएफसी की तुलना

गोल्ड लोन लेते समय बैंक या एनबीएफसी की ब्याज दरों व अन्य शुल्क की तुलना जरूर करनी चाहिए। जो बैंक या एनबीएफसी किफायती दरों पर लोन मुहैया कराएं उसी बैंक या संस्थान को लोन के लिए प्राथमिकता देनी चाहिए।

मासिक ईएमआई (EMI)

गोल्ड लोन का रिपेमेंट करना बहुत महत्वपूर्ण होता हैं क्योंकि बैंक गोल्ड लोन के भुगतान के लिए केवल ब्याज के भुगतान का विकल्प देते हैं। जबकि भुगतान अवधि के अंत में या बीच में संपूर्ण लोन राशि (मूलधन) का भुगतान करना होता हैं। भुगतान अवधि के अंत में लोन की रकम का एक साथ भुगतान करना मुश्किल हो सकता हैं। इसलिए यदि हो सके तो ईएमआई में ब्याज दर व मूलधन का भुगतान करना चाहिए।

समय पूर्व भुगतान (Pre-payment)

गोल्ड लोन के लिए प्री-पेमेंट विकल्प होना बहुत महत्वपूर्ण होता हैं। प्री-पेमेंट के जरिए आप लोन का भुगतान निर्धारित समय से पहले कर सकते हैं। बहुत से बैंक प्री-पेमेंट या प्री-क्लोजर के लिए शुल्क वसूलते हैं। मगर बैंक ऑफ बड़ौदा गोल्ड लोन की प्री-पेमेंट के लिए कोई शुल्क लागू नहीं करता हैं।
प्री-पेमेंट करने से आप अतिरिक्त शुल्क व एकमुश्त मूलधन के दबाव से बच सकते हैं। जब भी आपके पास थोड़ी रकम इकट्ठा हो तो आपको गोल्ड लोन का प्री-पेमेंट करना चाहिए।

छुपा हुआ शुल्क

लोन लेने के बाद बहुत से ऐसे शुल्क होते हैं जिनके बारे में पहले कोई जानकारी नहीं दी जाती हैं। या ऊधारकर्ता को इन सबकी जानकारी नहीं होती है। इसलिए बैंक या एनबीएफसी से छुपे हुए शुल्क के बारे में पहले ही जानकारी लेनी चाहिए। ऐसा करने पर भविष्य में अतिरिक्त शुल्क से बचा जा सकता हैं।

गोल्ड का रखरखाव

गोल्ड लोन के तहत गिरवी रखें गये गोल्ड को रखने की बैंक व वित्तीय संस्थान गोल्ड के पास अच्छी सुविधा उपलब्ध होती हैं। इसके बावजूद भी सोने के रखरखाव के बारे में सुनिश्चित करना चाहिए। इसके अतिरिक्त ज्वैलरी स्वैपिंग व अन्य जोखिमों के बारे मेें बैंक से जान लेना चाहिए। बैंक ऑफ बड़ौदा भी गोल्ड लोन के तहत लिये गये सोने को सुरक्षित रखने की व्यवस्था रखता हैं।

गोल्ड लोन NOC

गोल्ड लोन का पूर्ण भुगतान हो जाने के बाद आप अपने गिरवी रखें सोने को बैंक से वापस ले सकते हैं। वही लोन की रिपेमेंट होने पर बैंक से NOC भी लेनी चाहिए जिसके बाद आपका लोन पूर्ण रूप से बंद हो जाता है। क्योंकि कभी कभी लोन का पूर्ण भुगतान होने के बावजूद भी लोन स्टेटस एक्टिव रहता हैं।

बैंक ऑफ बड़ौदा कस्टमर केयर नंबर

आप अपने सवाल या शिकायत के लिए बैंक ऑफ़ बड़ौदा के कस्टमर सपोर्ट सेंटर से संपर्क कर सकते हैं।
18002584455
18002584455

अस्वीकरण / Disclaimers

उपरोक्त के अनुसार बताई गई दरें, शुल्क, पात्रता मानदंड व अन्य जानकारी बैंक या वित्तीय संस्थान के एकमात्र विवेक पर समय-समय पर परिवर्तन / संशोधन के अधीन है। लोन लेने से पहले वर्तमान दर, शुल्क, पात्रता मानदंड, नियम व शर्त की जानकारी बैंक से जरूर लें।

इन्हें भी पढ़ें- SBI क्रेडिट कार्ड चार्जेज, SBI Credit Card Annual fee And Renewal Charges

मुथूट फाइनेंस गोल्ड लोन ब्याज दर, स्कीम के प्रकार, पात्रता मानदंड, आवेदन कैसे करें?

बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं, भारत में क्रिप्टोकरेंसी का भविष्य क्या होगा?

Leave a Reply