उज्जीवन बैंक पर्सनल लोन: उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक से पर्सनल लोन लेकर आप अपनी वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा कर सकते हैं।
पैसे की अचानक आवश्यकता पड़ने पर लोन बहुत काम आ सकता है। खास तौर पर पर्सनल लोन जो बिना किसी सिक्योरिटी जमा किए ही मिल जाता हैं।
पर्सनल लोन लेकर आप अपनी जरूरतों को पूरा कर सकते हैं जैसे-
त्योहार व शादी के खर्च
बच्चों की एजूकेशन का खर्च
मेडिकल ख़र्च
घर की मरम्मत के लिए व

अपनी निजी जरूरतों के लिए पर्सनल लोन का इस्तेमाल कर सकते हैं।
पर्सनल लोन अनसिक्योर्ड लोन होता है। इसलिए पर्सनल लोन की पात्रता मानदंड को पूरा करना बेहद जरूरी होता है। जिसके कारण पर्सनल लोन मिलना थोडा मुश्किल होता है। इसकी ब्याज दर भी अन्य लोन के मुकाबले ज्यादा होती है। आपको इमरजेंसी मे रकम की खास जरूरत पड़ने पर ही पर्सनल लोन के लिए अप्लाई करना चाहिए। अन्यथा आप कोई सिक्योर्ड लोन या माॅर्गेज लोन ले सकते हैं। जिसपर ब्याज दर थोडी कम होती है।

Ujjivan Small Finance Bank Personal Loan Online Apply, उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक पर्सनल लोन पात्रता, जरूरी दस्तावेज
Ujjivan Small Finance Bank Personal Loan

Ujjivan Bank Personal Loan Apply Online

यदि आप उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक से पर्सनल लोन लेना चाहते हैं तो आपको उज्जीवन बैंक पर्सनल लोन के लिए पात्रता मानदंड व जरूरी दस्तावेजों के बारे में जानकारी होना चाहिए। उज्जीवन बैंक लोन लेने की प्रक्रिया ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों तरह होती हैं। जिससे ग्राहक को लोन लेने में सुविधा होती है।
वही पर्सनल लोन के लिए किसी तरह के कोलेटरल की आवश्यकता नहीं होती है व लोन मिलने की प्रक्रिया भी जल्दी पूरी हो जाती है। उज्जीवन बैंक पर्सनल लोन तीन दिन के भीतर मिल जाता हैं।

Ujjivan Bank Personal Loan Interest Rate

उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक पर्सनल लोन पर न्यूनतम 11.49% वार्षिक ब्याज दर लगाता है। पर्सनल लोन अनसिक्योर्ड लोन की श्रेणी में आता है। जिसके कारण पर्सनल लोन की ब्याज दर अन्य लोन की तुलना में अधिक होती है। वही बैंक को पर्सनल लोन की रिपेमेंट में अधिक जोखिम रहता है। लोन की ब्याज दर कई कारणों से कम या ज्यादा भी हो सकती है जैसे-
आवेदक की इनकम
आवेदक की आयु
सिबिल स्कोर
लोन की रकम
लोन की अवधि आदि।

Ujjivan Personal Loan Eligibility Criteria

उज्जीवन बैंक पर्सनल लोन के लिए कुछ पात्रता मानदंड हैं जिन्हें पूरा करने के बाद ही लोन लिया जा सकता है। जैसे-
• ऊधारकर्ता की आयु 22 से 68 साल के बीच होनी चाहिए।
• ऊधारकर्ता का स्थिर आय का साधन होना चाहिए।
• ऊधारकर्ता की न्यूनतम मासिक आय 15000 रूपए होनी चाहिए।
• कम से कम दो साल का कार्य अनुभव होना चाहिए।
सिबिल स्कोर/क्रेडिट स्कोर अच्छा होना चाहिए।
बैंक लोन अप्लाई करते समय आपसे अन्य मानदंडों को पूरा करने के लिए भी कह सकता हैं।

Ujjivan Bank Personal Loan Required Documents

• Identity Proof: आधार कार्ड, पेनकार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड आदि में से कोई एक होना चाहिए।
• Address Proof: पासपोर्ट, आधार कार्ड, पेनकार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि मे से कोई एक होना चाहिए।
• Income Proof: पिछले तीन महीने की सैलरी स्लिप।
• पिछले 6 महीने की बैंक अकाउंट स्टेटमेंट (जिससे सैलरी आती है)
पासपोर्ट साइज फोटो
• कंपनी आईडी कार्ड।
बैंक पूरी वेरिफिकेशन के बाद ही लोन मंजूर करता हैं। जिसके लिए अन्य दस्तावेजों की आवश्यकता भी पड़ सकती है।

Ujjivan Finance Bank Personal Loan Tenure

उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक से पर्सनल लोन की अवधि 12 से 60 महीने होती है। वही लोन की अवधि लोन की रकम, ऊधारकर्ता की इनकम, ईएमआई व अन्य कारणों से कम या ज्यादा हो सकती है। 12 महीने से लेकर 60 महीनों की बीच आपको लोन की रकम व ब्याज को किस्तो मे चुकाना होता है। अधिकतर बैंक पर्सनल लोन की अवधि अधिकतम पांच साल ही रखते हैं।

उज्जीवन बैंक पर्सनल लोन कैसे अप्लाई करें

उज्जीवन बैंक से पर्सनल लोन लेने के लिए आनलाइन या आफलाइन दोनों तरह से अप्लाई किया जा सकता है।
आनलाइन आवेदन के लिए उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक की आफिशियल वेबसाइट पर जाकर पर्सनल लोन एप्लीकेशन भरकर सबमिट कर सकते है। जिसके बाद बैंक के प्रतिनिधि आपसे संपर्क करेंगे। और आपके सभी जरूरी दस्तावेज व आपकी पात्रता की जांच करने के बाद लोन मंजूर कर दिया जाता हैं।
आप बैंक की शाखा में जाकर भी पर्सनल लोन अप्लाई कर सकते हैं। बैंक की शाखा मे पर्सनल लोन एप्लीकेशन फॉर्म भरकर जमा करना होता है। जिसके बाद बैंक के प्रतिनिधि आपसे संपर्क करके लोन की प्रक्रिया पूरी करते हैं। आपकी पात्रता के अनुसार लोन दिया जाता हैं।

Ujjivan Small Finance Bank Loan Features

• लोन की रिपेमेंट के लिए 12 महीने से लेकर 60 महीने का समय मिल जाता हैं। इस अवधि में ऊधारकर्ता अपनी सुविधानुसार ईएमआई चुन सकता हैं।
• किसी तरह के कोलेटरल (गिरवी) रखने की आवश्यकता नहीं होती है।
• 50000 रूपए से 15 लाख रुपए तक का पर्सनल लोन लिया जा सकता है।
• लोन मंजूर होने मे केवल तीन दिन का समय (72 घंटे) लगता है।
• बहुत कम डाक्यूमेंट की आवश्यकता होती है, (सिर्फ 3 महीने की सैलरी स्लिप व 6 महीने की बैंक स्टेटमेंट)
ऑनलाइन प्रकिया के तहत भी लोन लिया जा सकता है
• लोन का इंश्योरेंस भी कराया जा सकता हैं। उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक पर्सनल लोन भुगतान सुरक्षित करने के लिए लोन प्रोटेक्शन इंश्योरेंस पॉलिसी भी देता है जिसके लिए अलग से प्रीमियम भुगतान करना होता है।

उज्जीवन बैंक लोन प्रोटेक्शन इंश्योरेंस प्लान

उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक पर्सनल लोन को सुरक्षित रखने के लिए पर्सनल लोन प्रोटेक्शन प्लान भी बेचता है। इसे खरीदकर ऊधारकर्ता की नामौजूदगी में लोन का भुगतान इंश्योरेंस कंपनी करती है।
ऊधारकर्ता की आकस्मिक मृत्यु होने, गंभीर रूप से बिमार होने या पूर्ण रूप से विकलांग होने पर लोन का भुगतान इंश्योरेंस प्लान की तरफ से किया जाता है।
पर्सनल लोन अनसिक्योर्ड लोन होता है इसलिए इसकी रिपेमेंट में बैंक को अधिक जोखिम रहता है। जिसके कारण बैंक ऊधारकर्ता से लोन प्रोटेक्शन इंश्योरेंस प्लान लेने की पेशकश करता है।

किन बातों का ध्यान रखना चाहिए

पर्सनल लोन या अन्य लोन लेते समय बहुत सी बातों का ध्यान रखना चाहिए। जिससे लोन के दौरान किसी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े।
• बैंकों की तुलना: लोन लेने से पहले कई बैंकों की ब्याज दर, लोन अवधि, लोन की रकम, प्रोसेसिंग फीस, अन्य शुल्क की तुलना करनी चाहिए। जिस बैंक से किफायती दरों में लोन मिले उसी बैंक से लोन अप्लाई करना चाहिए।
• लोन की रकम: कभी भी लोन की रकम अपनी जरूरत से अधिक नहीं होनी चाहिए। जितनी अधिक रकम का लोन होगा उतनी ज्यादा ब्याज की रकम चुकानी होगी इसलिए बेवजह अधिक रकम का लोन नहीं लेना चाहिए।
• लोन की अवधि: लोन की अवधि का चुनाव भी बहुत सोच समझकर करना चाहिए। क्योंकि लोन की अवधि के अनुसार ही ईएमआई बनती है। इसलिए जितनी रकम की ईएमआई हर महीने चुकाई जा सके उतनी रकम की ईएमआई के हिसाब से लोन की रिपेमेंट अवधि चुननी चाहिए।
• ब्याज दर: कोई भी लोन हो, बैंक ऊधारकर्ता से ब्याज वसूलता है। मगर कई कारणों से ब्याज कम व ज्यादा हो जाता हैं। इनका ध्यान रकखर कम ब्याज दर पर लोन लिया जा सकता है। जैसे-
अच्छा सिबिल स्कोर
अच्छा आय का साधन
अधिक रिपेमेंट क्षमता
अन्य लोन का समय पर भुगतान
सिक्योर्ड लोन लेकर।
• रिपेमेंट क्षमता: बैंक आपकी आय, मासिक खर्च, अन्य लोन की ईएमआई के आधार पर आपकी रिपेमेंट क्षमता आंकता है। आपके जितने भी आय के स्रोत है उनके बारे में बैंक को बताना चाहिए। नया लोन लेने से पहले अपने अन्य लोन का भुगतान कर देना चाहिए जिससे आपको कम ब्याज दर पर लोन मिल सकता है।

उम्मीद है आपको उज्जीवन स्माॅल फाइनेंस बैंक पर्सनल लोन के बारे में उचित जानकारी मिल गई होगी। जैसे उज्जीवन स्माॅल बैंक पर्सनल लोन ब्याज दर, लोन अवधि, लोन की रकम व अन्य। यदि आपको पर्सनल लोन या अन्य लोन के बारे में कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप हमे कमेंट्स कर सकते हैं।
आप हमें फेसबुकटेलीग्राम पर फोलो कर सकते हैं। धन्यवाद

इन्हें भी पढ़ें-

उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक होम लोन: ब्याज दर, पात्रता, जरूरी दस्तावेज अप्लाई ऑनलाइन

पेटीएम पर्सनल लोन कैसे लें | पेटीएम से पर्सनल लोन लेने का तरीका क्या हैं | Paytm Personal Loan Online Apply

कोटक महिंद्रा फाइनेंस पर्सनल लोन कैसे लें, Kotak Mahindra Bank Personal Loan Kaise Le

एचडीएफसी बैंक से पर्सनल से लोन कैसे मिलेगा | HDFC पर्सनल लोन कैसे लें

This Post Has 2 Comments

  1. Umashankar vidharthi

    Veri nice

Leave a Reply