एचडीएफसी बैंक पर्सनल लोन कैसे मिलेगा: यदि आप HDFC Bank से पर्सनल लोन लेना चाहते हैं। मगर आपको जानकारी नहीं है कि आपको एचडीएफसी बैंक से पर्शनल लोन कैसे मिलेगा। तो हम आपको एचडीएफसी बैंक पर्सनल लोन के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं। जैसे एचडीएफसी पर्सनल लोन कितना मिल सकता हैं, एचडीएफसी बैंक से पर्शनल लोन कितने दिनों के लिए मिलता हैं, HDFC Personal Loan पर कितना ब्याज लगता है। इसके साथ ही पर्सनल लोन लेने की सारी प्रक्रिया को भी विस्तार से बताएंगे। साथ ही कुछ सावधानियां जो आपको पर्सनल लोन लेते समय बरतनी चाहिए।

एचडीएफसी पर्सनल लोन HDFC Personal Loan

एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लेने से पहले आप सुनिश्चित कर लें कि आप लोन किस कार्य के लिए लें रहें है। आप लोन की राशि, लोन की अवधि, व अपनी पात्रता (Eligibility) का विशेष ध्यान रखें। क्योंकि इन सबकी जांच करने के बाद आपको लोन लेने मे कोई दिक्कत नहीं होगी और आप आसानी से लोन लें पाएंगे।

Hdfc bank Personal Loan Kaise Apply Kare, एचडीएफसी बैंक से पर्शनल लोन कैसे मिलेगा
HDFC Personal Loan Kaise Lete Hai

एचडीएफसी बैंक से कितना पर्सनल लोन लिया जा सकता है

एचडीएफसी बैंक से आप 1 लाख से 10 लाख तक का पर्सनल लोन लें सकते हैं। जहां तक लोन के राशि की बात है तो यह आवेदनकर्ता के प्रोफाइल पर भी निर्भर करती है। यदि आवेदनकर्ता की लोन हिस्ट्री सही है तो अधिक राशि का लोन भी मिल सकता हैं। और यदि आवेदनकर्ता की लोन व क्रेडिट हिस्ट्री सही नहीं है तो लोन मिलना मुश्किल हो सकता हैं या कम राशि का लोन ही मिल सकता हैं।

इसे भी पढ़ें- जानिए पर्सनल लोन कितना मिल सकता है | ज्यादा लोन के लिए क्या करें?

एचडीएफसी बैंक पर्सनल लोन कितने दिनों के लिए देता है

एचडीएफसी बैंक पर्सनल लोन 12 महीने से 60 महीनों के लिए मिल सकता हैं। इतने समय के अंतराल में आपको हर माह किस्तों में लोन को चुकाना होता है। लोन की अवधि, लोन के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है। लंबे समय के लिए लोन लेने पर कम राशि की ईएमआई बनती है जिसे चुकाना आसान होता है।

एचडीएफसी पर्सनल लोन के लिए पात्रता (Eligibility)

एचडीएफसी बैंक से पर्शनल लोन लेने के लिए पात्रता निम्न बातों पर निर्भर करती हैं-
• आवेदनकर्ता की उम्र 21 से 60 साल के बीच होनी चाहिए।
• कम से कम एक साल से किसी जगह नियमित रूप से नौकरी कर रहे हैं। या कहीं पर दो साल तक नौकरी की है।
• हर महीने की इनकम कम से कम 25 हजार रूपए होनी चाहिए।
• पिछले क्रेडिट कार्ड या लोन चुकाने मे कोई डिफ़ाल्ट ना किया हों।
सामान्य तौर पर इन बातों पर ही लोन लेने वाले व्यक्ति की पात्रता तय होती हैं। इनसे अलग और भी कई तथ्य है जो आपकी पात्रता के लिए जरूरी हो सकते हैं। ये पूर्ण रूप से बैंक पर निर्भर करता हैं कि वह आपकी पात्रता के लिए क्या क्या मापदंड रखता है।

HDFC पर्सनल लोन पर कितना ब्याज लगता है

एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लेने पर 10 से 30 प्रतिशत वार्षिक ब्याज लगता है। इसके साथ ही एचडीएफसी पर्सनल लोन का APR 10 से 35% तक जा सकता हैं।
लोन पर लगने वाली ब्याज दर अलग अलग व्यक्ति के लिए अलग हो सकती हैं। ब्याज दर लोन लेने वाले व्यक्ति की प्रोफाइल पर भी निर्भर करती है। इसके साथ ही लोन की अवधि, लोन की रकम, सिबिल स्कोर से भी ब्याज दर में फर्क हो सकता हैं।

एचडीएफसी पर्सनल लोन कैलकुलेशन

यदि आप 100000 रूपए का पर्सनल लोन 2 साल के लिए लेते हैं जिसके लिए आपको 11.5 प्रतिशत ब्याज चुकाना होगा। तो आपके लोन पर ब्याज व लोन की राशि इस प्रकार होगी
लोन की राशि= 100000 रूपए
लोन की अवधि= 24 महीने
लोन की ब्याज दर= 11.50% वार्षिक
प्रोसेसिंग फीस 2359 रूपए
अन्य शुल्क= 100 रूपए
ग्राहक को मिलने वाली रकम
100000-2459= 97541 रूपए
24 महीने का कुल ब्याज = 12416 रूपए
हर महीने की ईएमआई= 4684 रूपए
कुल चुकाने वाली रकम= 112416 रूपए
यह सभी आंकड़े सिर्फ उदाहरण के लिए हैं। हो सकता है कि आपके लिए लोन की राशि, ब्याज दरअवधि अलग हो तो यह सभी आंकड़े बदल भी सकते हैं।

एचडीएफसी पर्सनल लोन ईएमआई (किस्त)

एचडीएफसी पर्सनल लोन की ईएमआई को आप अपने हिसाब से चुन सकते हैं। लोन लेते समय ईएमआई का सही चुनाव करना बहुत महत्वपूर्ण होता है।
लोन की सही ईएमआई ही लोन चुकाने मे महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। लोन की ईएमआई अपनी हर महीने की इनकम के हिसाब से रखनी चाहिए। वैसे विशेषज्ञ कहते हैं कि आप अपने इनकम का 30 प्रतिशत से अधिक राशि की ईएमआई ना चुनें तो बहतर होता हैं। क्योंकि आप अपनी इनकम से रोजमर्रा के खर्चों को हटाकर 30 प्रतिशत बचत कर सकते हैं। जिसे आप लोन की ईएमआई भरने में इस्तेमाल कर सकते हैं।
यदि आपकी हर महीने की इनकम 30000 रूपए है और आप 100000 रूपए का पर्सनल लोन 12 महीने के लिए लेते हैं तो आप इसकी ईएमआई 8861 रूपए चुन सकते हैं। इतनी राशि की ईएमआई आप आसानी से चुका सकते हैं।
यदि आपका अन्य खर्चों पर अधिक खर्च होता है तो आप ईएमआई को और कम भी कर सकते हैं।

एचडीएफसी पर्सनल लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज

आईडी प्रूफ– आधार कार्ड, पेनकार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट या भारत सरकार द्वारा जारी किया गया कोई दस्तावेज।
एड्रेस प्रुफ– आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, बिजली बिल, टेलीफोन बिल आदि मे कोई एक दस्तावेज
इनकम प्रुफ– बैंक स्टेटमेंट, सैलरी स्लिप, इनकम टैक्स रिटर्न
फोटोग्राफ– हाल ही में खींचा गया फोटोग्राफ।

एचडीएफसी पर्सनल लोन का इस्तेमाल कहां कर सकते हैं

एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लेकर आप इसे अपने हिसाब से इस्तेमाल कर सकते हैं। जैसे अपने लिए कोई सामान खरीदना, अपने घर की मरम्मत कराना, घर का निर्माण करना।
इसके अलावा आप पर्सनल लोन को इमेरजैंसी के समय भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
आप शिक्षा के लिए भी पर्सनल लोन का यूज कर सकते हैं।
शादी मे होने वाले खर्च या फिर घूमने जाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता हैं।
आप अपने रोजमर्रा के खर्चों के लिए भी पर्सनल लोन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

एचडीएफसी पर्सनल लोन कैसे अप्लाई करें

एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लेने के लिए आप आनलाइन या आफलाइन दोनों तरह से अप्लाई कर सकते हैं। यदि आप एचडीएफसी बैंक के मौजूदा ग्राहक है तो आप आनलाइन बैंक की आफिशियल वेबसाइट पर जाकर नेटबैंकिग के माध्यम से पर्सनल लोन अप्लाई कर सकते हैं। इसमे कुछ मिनटों का समय लगता है।
और यदि आप आफलाइन लोन अप्लाई करना चाहते हैं तो आप एचडीएफसी बैंक की नजदीकी शाखां मे जाकर भी अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको सभी जरूरी दस्तावेज को साथ रखना होगा। आपकी पात्रता के हिसाब से आपको लोन मिल जाएगा।
एचडीएफसी बैंक के आफिशियल ऐप Loan Assist से भी आप घर बैठे लोन अप्लाई कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- कम सिबिल स्कोर पर कैसे लोन लें | खराब क्रेडिट स्कोर होने पर भी ऐसे मिलेगा लोन

एचडीएफसी पर्सनल लोन की विशेषताएं

• एचडीएफसी बैंक अपने मौजूदा ग्राहकों को कुछ ही मिनटों में पर्सनल लोन मुहैया करा देता है।
• एचडीएफसी पर्सनल लोन 10 लाख रूपए तक मिल सकता हैं।
• आनलाइन व आफलाइन दोनों तरह से लोन अप्लाई किया जा सकता हैं।
• आनलाइन अप्लाई करने के लिए आप एचडीएफसी बैंक के Loan Assist App का इस्तेमाल कर सकते हैं।
• यदि आप एचडीएफसी बैंक के मौजूदा ग्राहक है तो आप बैंक की आफिशियल वेबसाइट पर नेट बैंकिंग द्वारा भी लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं।
• एचडीएफसी बैंक के एटीएम के माध्यम से भी आप पर्सनल लोन अप्लाई कर सकते हैं।
• यदि आप एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लेकर घर खरीदने, घर का निर्माण, घर की मरम्मत या उच्च शिक्षा पाने के लिए इस्तेमाल करते हैं तो आप लोन के ब्याज पर लगने वाले टैक्स मे भी छूट पा सकते हैं।

पर्सनल लोन लेते समय किन बातों का ध्यान रखें

पर्सनल लोन ब्याज दर:

पर्सनल लोन अनसिक्योर्ड लोन होता हैं। जिसके कारण बैंक को पर्सनल लोन देने में ज्यादा रिस्क रहता है। इसलिए इस लोन की ब्याज दर अधिक होती हैं। आप कोशिश करें कि कम से कम ब्याज दर पर पर्सनल लोन मिल जाए। क्योंकि लोन के ब्याज के लिए भी काफी रकम अदा करनी पड़ती है। यदि ब्याज दर मे किसी तरह की छूट मिल जाती हैं तो आपको काफी फायदा हो सकता हैं।

पर्सनल लोन की ईएमआई:

किसी भी लोन के लिए ईएमआई का सही चुनाव करना बहुत जरूरी होता हैं। यदि आप ईएमआई का सही चुनाव नहीं करते हैं तो आपको लोन चुकाने मे काफी दिक्कतें आ सकती हैं। अपने हर महीने की इनकम के हिसाब से ही अपनी ईएमआई चुनें। व अपने सभी जरूरी खर्चों के बाद आप कितने रुपए की ईएमआई चुका सकते हैं उतने रूपए की ही ईएमआई रखें। क्योंकि ज्यादा राशि की ईएमआई रखने पर आपको लोन चुकाने मे परेशानी आ सकती हैं। जिसके कारण आपको अतिरिक्त शुल्क भी देना पड सकता है।

पर्सनल लोन अवधि (Tenure):

लोन की अवधि आपके लिए बहुत जरूरी हो सकती हैं। आप उतनी अवधि के लिए लोन लें जितनी अवधि तक आप लोन चुका सकते हैं। यदि आप छोटी अवधि के लिए लोन लेते हैं तो आपको अधिक ब्याज दर पर लोन लेना पड़ सकता है। क्योंकि अधिकतर छोटी अवधि के लोन पर ब्याज दर ज्यादा होती है। इसके साथ ही ईएमआई की राशि भी ज्यादा हो जाती है।
वही लंबी अवधि के लोन की बात करें तो लंबी अवधि के लोन पर कुछ कम ब्याज दर होती हैं। मगर लंबी अवधि के लोन को चुकाने के लिए अधिक समय लगता है जिसमें ईएमआई की संख्या अधिक होती है। जिसके कारण लोन को चुकाने मे अधिक समय लग जाता हैं। इसलिए आप अपने हिसाब से लोन की अवधि का चुनाव करें।

पर्सनल लोन प्रोसेसिंग फीस:

लोन लेते समय प्रोसेसिंग फीस भी चुकानी पड़ती है। कुछ बैंक प्रोसेसिंग फीस मे छूट भी देते हैं। और कुछ बैंकों में 1-2 प्रतिशत प्रोसेसिंग फीस लगाई जाती हैं। बहुत से बैंक ब्याज दर में छूट देकर प्रोसेसिंग फीस बढ़ा देते हैं। जिसके कारण आपको प्रोसेसिंग फीस अधिक देनी पड़ती है। आप लोन लेते समय प्रोसेसिंग फीस को अच्छी तरह समझ लें जिससे आपको अतिरिक्त प्रोसेसिंग फीस न चुकानी पड़े।

पर्सनल लोन अतिरिक्त शुल्क:

लोन की ईएमआई भरने मे देरी होने पर भी पेनल्टी लग सकती है। इसलिए ईएमआई के भुगतान में देरी नहीं करनी चाहिए। लेट फीस के अतिरिक्त और भी कोई छूपा हुआ शुल्क तो नहीं है इसकी भी पूरी तरह तसल्ली कर लेनी चाहिए। इसके बाद ही लोन के लिए अप्लाई करना चाहिए। आप लोन लेते समय इन सभी बातों का विशेष ध्यान रखें।
ईएमआई समय पर ना चुकाने पर आपको अतिरिक्त शुल्क देना पड़ता है साथ ही आपका सिबिल स्कोर भी खराब होता हैं। जिसके कारण भविष्य में लोन मिलना मुश्किल हो सकता हैं।

इन्हे भी पढ़ें- खराब सिबिल स्कोर के क्या नुकसान हो सकते हैं?

सिबिल स्कोर क्या है | सिबिल स्कोर कैसे ठीक करें

आपने इस आर्टिकल से एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लेने के बारे में बहुत कुछ जाना होगा। एचडीएफसी पर्सनल लोन लेने के लिए आवश्यक जानकारी होनी बेहद जरूरी है। बिना जानकारी के लोन लेना मुश्किल हो जाता हैं। इसलिए हमनें आपके लिए इस लेख मे एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लेने के बारे में सारी जानकारी बताई है।
उम्मीद करते हैं आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी। और आपके लिए उपयोगी भी होगी। हम अपने पाठकों के लिए बहतर से बहतर जानकारी देने का प्रयास करतें हैं। इसके बावजूद हमारे किसी आर्टिकल मे किसी प्रकार की कोई त्रुटि हैं तो आप हमे कमेंट्स करके बता सकते हैं।
फाइनेंस से जुड़ी जानकारी के लिए आप हमारे फेसबुक पेजटेलीग्राम चेनल को भी ज्वाइन कर सकते हैं। धन्यवाद

इन्हे भी पढ़ें-

बंधन बैंक पर्सनल लोन कैसे ले | Bandhan Bank Bank Personal Loan Details In Hindi

फेसबुक से बिजनेस लोन कैसे लें | 5 लाख से 50 लाख तक का बिजनेस लोन

मोबाइल से तुरंत लोन कैसे मिलेगा? फोन से लोन कैसे लिया जाता है?

Leave a Reply