क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम से कैश निकालने के लिए करना चाहिए या नहीं: यदि आप इस सवाल का जवाब पाना चाहते हैं तो हम आपको इस पोस्ट मे इसका जवाब बताने वाले हैं। जिसके बाद आप जान पाएंगे कि क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम से कैश निकालने के लिए करने पर लाभ होता है या नुकसान। साथ ही हम बताएंगे कि आपको कब क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैश निकालने के लिए करना चाहिए और कब बचना चाहिए। कई बार ऐसा समय आ जाता हैं जब आपको कैश की आवश्यकता पड जाती है। और आप अपने क्रेडिट कार्ड के माध्यम से एटीएम से कैश निकाल लेते हैं। मगर आपको पता नहीं होता है कि ऐसा करने पर आपको कितना अतिरिक्त शुल्क देना पड़ सकता है।

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम से कैश निकालने के लिए करना चाहिए
क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने के नुक़सान

क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने पर कितना चार्ज लगता है

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैश निकालने के लिए करने पर अतिरिक्त चार्ज लगाया जाता है। क्रेडिट कार्ड निर्माता बैंक या नान बैंकिंग वित्तीय संस्थान व कार्ड के प्रकार पर निर्भर करता है कि कैश निकालने पर कितना चार्ज लगेगा। आमतौर पर क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने पर दो तरह के चार्ज लगाये जाते है

Cash Advance Fee

जब क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम से कैश निकालने के लिए किया जाता है तो उस पर एक चार्ज लगता है जिसे Cash Advance Fee कहते हैं। यह प्रत्येक ट्रांजेक्शन पर लगता है जो फिक्स होता है। आप चाहें 500 रूपए निकाले या 5000 रूपये यह हर लेनदेन के लिए फिक्स होता है। बड़े अमाउंट पर यह 2.5 प्रतिशत से 3.5 प्रतिशत भी हो सकता है। Cash Advance फीस को फिक्स रूप मे कुछ बैंक 300 रूपये तो कुछ बैंकों 500 रूपये का चार्ज भी लगा सकते है।
इसके अतिरिक्त Cash Advance Fee पर 18 प्रतिशत GST भी लगती हैं। जिससे इसका अमाउंट और ज्यादा हो जाता है। जितना भी Cash Advance Fee होती हैं उस पर 18 प्रतिशत जीएसटी लगती है। जैसे आपके ट्रांजेक्शन पर 500 रूपए Cash Advance Fee लगी है तो उस पर जीएसटी होगी
500×18%=90 रूपए
Cash Advance Fee = 500+90=590 रूपए
इस तरह से आपको प्रत्येक ट्रांजेक्शन पर 590 रूपये Cash Advance Fee के रूप मे चुकाने होंगे।

Finance Fee

क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने पर Finance Charge निकाली गई रकम पर ब्याज के रूप मे लगाया जाता है। यह उस दिन से लगना शुरू हो जाता है जिस दिन आप कैश Withdraw करतें हैं। यह एक महीने के लिए 2.5 से 3.5 प्रतिशत हो सकता है। वैसे यह प्रतिदिन के हिसाब से लगाया जाता है जो 0.08 से 0.11 प्रतिशत हो सकता है। बैंक और क्रेडिट कार्ड के प्रकार पर निर्भर करता है कि कितने प्रतिशत Finance Charge लगेगा। Finance Charge पर भी 18 प्रतिशत जीएसटी लगाई जाती है। Finance चार्ज से बचने के लिए जितनी जल्दी हो सके क्रेडिट कार्ड का पेमेंट कर देना चाहिए।

Due Date के बाद कितना चार्ज लगता है?

यदि आप क्रेडिट कार्ड से कैश Withdraw कर लेते हैं तो आपको दो तरह के चार्ज तो तुरंत लगाये जाते हैं। जिन्हें डयू डेट से पहले भर कर और ज्यादा चार्ज लगने से बचा जा सकता हैं। यदि आप डयू डेट तक क्रेडिट कार्ड का पेमेंट नहीं करते हैं तो आपको पेनाल्टी भी चुकानी पड़ती है।
Cash Advance Fee व Finance Fee तो बरकरार रहती ही हैं इनके अतिरिक्त आपको लेट पेमेंट पर पेनाल्टी भी चुकानी पड़ सकती हैं।
डयू डेट के बाद आपको क्रेडिट कार्ड से खर्च किये गये रूपयों पर व Cash Withdraw किये गये रूपयों दोनों पर ब्याज देना होता है। इसलिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम से कैश निकालने के लिए करने पर बहुत महंगा पड़ता है।

क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने पर नुकसान

ऊपर बताए गए कुछ चार्ज जो आपको क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने पर चुकाने पड़ते हैं। इसके अतिरिक्त भी क्रेडिट कार्ड से कैश निकालना कई तरह से नुकसानदायक होता हैं।
• अतिरिक्त शुल्क चुकाना पड़ता है।
• बहुत अधिक ब्याज चुकाना पड़ता है जो 45 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर तक भी हो सकता है।
• लेट पेमेंट की स्थिति में बहुत ज्यादा पेनाल्टी चुकानी पड़ती है।
• आपका क्रेडिट स्कोर भी खराब हो सकता है।

क्या क्या सावधानी बरतनी चाहिए?

क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने पर आपको ये सावधानियां बरतनी चाहिए जिससे आआपक कम से कम शुल्क देना पड़े।

• सबसे पहले यदि आपको कोई ज्यादा ही इमरजेंसी हैं तो आप क्रेडिट से कैश निकाले वरना आप क्रेडिट कार्ड से कैश Withdraw करने से बचें।
• आपको जितने रूपयों की जरूरत है उतने रूपये एक बार मे ही निकाल लें। ऐसा करने से आप हर बार लगने वाली Cash Advance Fee से बच सकते हैं। क्योंकि हर ट्रांजैक्शन पर अलग Cash Advance Fee देनी होती है।
Cash Withdraw करने के बाद आप कोशिश करें कि कैश Withdraw की गई रकम को जल्दी से जल्दी चुका दे। ऐसा करके आप ज्यादा Finance Charge चुकाने से बच सकते हैं। यह चार्ज प्रतिदिन के हिसाब से लगता है। जितने ज्यादा दिन होंगे चार्ज भी उतना ही अधिक होगा।
• बाकी पेमेंट को डयू डेट से पहले कर दें। ऐसा करने से आप अतिरिक्त पेनल्टी देने से बच सकते हैं।
• क्रेडिट कार्ड लेते समय सुनिश्चित कर ले कि कैश Withdraw करने पर कितना शुल्क देना होगा।

इस लेख को पढ़ने के बाद अब आप समझ चुके होंगे कि क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम से कैश निकालने के लिए करना चाहिए या नहीं। क्रेडिट कार्ड के माध्यम से कैश निकालने की सुविधा होती है मगर क्रेडिट कार्ड से कैश निकालना बहुत महंगा पड़ता है।
मैं आपसे कहना चाहूंगा कि यदि आपको तुरंत कैश की आवश्यकता है या कोई इमरजेंसी हैं तभी आप क्रेडिट कार्ड से कैश निकाले अन्यथा क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने से बचना चाहिए।

इन्हे भी पढ़ें-

Credit Card Kya Hota Hai, Iske Fayde Or Nuksan Kya Hai

कम सिबिल स्कोर के नुक़सान क्या हो सकते हैं | सिबिल स्कोर क्यो जरूरी होता है।

फेसबुक से बिजनेस लोन कैसे लें | 5 लाख से 50 लाख तक का बिजनेस लोन

कम सिबिल स्कोर पर कैसे लोन लें | खराब क्रेडिट स्कोर होने पर भी ऐसे मिलेगा लोन

Leave a Reply