Kisan Credit Card Loan In Hindi: किसान भाईयों के लिए चलाई गयी योजना किसान क्रेडिट कार्ड जिससे किसान भाई लोन लेकर अपने कृषि संबंधी खर्चें को आसानी से संभाल सकते हैं। कृषि के लिए लोन सुविधा पूरे भारत मे लागू हैं जिसके तहत बहुत से किसानों ने लोन लेकर आर्थिक जरूरतों को पूरा किया है। कृषि मे हमेशा आर्थिक मदद की आवश्यकता बनी रहती है। इसी को देखते हुए सरकार ने कृषि मे उपयोग होने वाले खाद, कीटनाशक, बीज की खरीद मे आने वाले खर्च की पूर्ति करने के लिए किसान क्रेडिट कार्ड की शुरुआत की है्। जिसे केसीसी के नाम से भी जाना जाता है। केसीसी से अब तक बहुत से किसान भाई लोन ले चुके हैं। किसान क्रेडिट कार्ड लोन से जुड़े सवाल जैसे केसीसी के तहत किसानों को कितना लोन मिलेगा, कितना ब्याज देना होगा, कितने समय के लिए लोन मिलेगा व इसके लिए क्या Eligibility है इसका विवरण हम इस आर्टिकल मे देने वाले हैं। यदि आप को भी केसीसी के तहत लोन की आवश्यकता है तो आप इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें।

Kcc loan kaise liya jata hai, kisan kredit card loan details in hindi
किसान क्रेडिट कार्ड लोन कैसे मिलता है

केसीसी लोन क्या है?

केसीसी या किसान क्रेडिट कार्ड एक तरह से लोन होता है। इसकी शुरुआत सन 1998 मे भारत सरकार ने की थी। केसीसी के लिए जरूरी नहीं है कि आपको कार्ड ही दिया जाए मगर इसके लिए बैंक आपका एक अकाउंट खोलता है जिसमें आपके लोन की लेनदेन का लेखा-जोखा दर्ज किया जाता है। यदि आप चाहें तो इसके लिए कार्ड भी लिया जा सकता है। इसकी लिमिट तीन लाख रूपए तक की होती है। राज्य सरकार व केन्द्र सरकार इस लोन के लिए सब्सिडी देती हैं। जिसके कारण यह बहुत कम ब्याज दर पर मिलने वाला लोन है। यह उन किसानों के लिए मुहैया कराया जाता है जिन्हें कृषि संबंधी कार्यों को पूरा करने के लिए आर्थिक मदद की आवश्यकता होती है। वही इस लोन को लेने के लिए जमीन गिरवी रखने की आवश्यकता भी नहीं होती है। किसान कल्याण के लिए यह लोन बहुत उपयोगी है।

किसान क्रेडिट कार्ड लोन कितना मिलता है?

किसान क्रेडिट कार्ड लोन तीन लाख रूपए तक मिल सकता है। 160000 रुपए तक के लोन के लिए किसी तरह से जमीन गिरवी रखने की आवश्यकता नहीं होती है। वही लोन की रकम क़ृषि उपयोगी जमीन पर भी निर्भर करती है। बैंक उतना लोन ही अप्रुव करता है जितना उस कृषि भूमि से चुकाने मे सक्षम हो सकें। हालांकि इसके लिए भूमि के कागजात गिरवी नहीं रखे जाते हैं। मगर बैंक एक बार कंफर्म करने के बाद ही लोन अप्रुव करता है। 1.60 लाख से अधिक के लोन लेने पर बैंक जमीन को बंधक बना लेता है। मिलने वाले लोन की रकम फसल की लागत, खर्च पर भी निर्भर करती है।

किसान क्रेडिट कार्ड कितने समय के लिए मिलता है?

किसान क्रेडिट कार्ड की मियाद पांच साल की होती है। इस कार्ड को देने का मकसद किसानों को खेती संबंधित जरूरतों को पूरा करना है। इस लोन को हर साल चुकाने पर ब्याज दर मे तीन फीसदी छूट मिलती है। कृषि पर मिलने वाले लोन मे से यह सबसे अच्छा लोन माना जाता है। किसान क्रेडिट कार्ड की जरूरत उन किसानों को होती हैं जो खेती के लिए जरूरी सामान की पूर्ति नहीं कर पाते हैं जिसकी वजह से वे कृषि मे आगे नहीं बढ़ पाते हैं।

इसे भी पढ़ें- Simply Cash Loan App Review In Hindi | Simplycash Hero Fincorp Personal Loan

किसान क्रेडिट कार्ड पर ब्याज दर कितनी होती है?

सामान्य तौर पर कृषि के लिए मिलने वाले लोन की ब्याज दर 9 प्रतिशत होती है। मगर केसीसी के लिए सरकार दो प्रतिशत की सब्सिडी देती है वहीं यदि लोन को एक साल के अंदर चुकाया जाता है तो ब्याज दर मे 3 प्रतिशत की अतिरिक्त छूट मिल जाती है जिसके चलते यह लोन केवल चार प्रतिशत ब्याज दर पर ही मिल जाता हैं। किसान क्रेडिट कार्ड के ब्याज को हर छमाही पर जमा करना होता है। वही साल के अंत में पूरा लोन चुकाना होता है। हालांकि एक बार लोन की पूरी रकम जमा करके दोबारा से उतना लोन ही मिल जाता हैं। बल्कि सही समय पर लोन चुकाने पर अगले साल के लिए मिलने वाली लोन की रकम 10% बढ़ा दी जाती है।

Kisan Credit Card Loan Eligibility

किसान क्रेडिट कार्ड लोन लेने के लिए निम्न दिशानिर्देश है-
• आवेदनकर्ता की उम्र 18 से 75 साल के बीच होनी चाहिए।
• आवेदनकर्ता एक कृषक होना चाहिए।
• केसीसी लोन के लिए कृषि भूमि आवेदनकर्ता के नाम दर्ज होनी चाहिए।
• आवेदनकर्ता खेती, मछली पालन, मूर्गी पालन आदि से जुड़ा होना चाहिए।
• आवेदनकर्ता कृषि उपयोगी भूमि का स्वामी होना चाहिए।
• किसी अन्य बैंक से लोन ना ले रखा हो तो ही केसीसी लोन मिल सकता है।
• आवेदनकर्ता केवल कृषि संबंधी खर्च के लिए ही लोन ले सकता है।
• लोन लेने का मकसद कृषि के अतिरिक्त किसी अन्य कार्य के लिए नहीं होना चाहिए।

KCC के लिए जरूरी दस्तावेज कौन-कौन से हैं?

जैसे किसी भी सरकारी योजना का लाभ उठाने के लिए दस्तावेजों की आवश्यकता होती है वैसे ही किसान क्रेडिट कार्ड के लिए भी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। इसके लिए मुख्य रूप से इन दस्तावेजों की आवश्यकता होती है-
• केसीसी आवेदन पत्र
• पेनकार्ड
• आधार कार्ड
• पहचान पत्र
• पासपोर्ट साइज फोटो
• कृषि योग्य भूमि के कागजात जैसे खसरा, खतौनी, हिस्सा प्रमाण पत्र आदि।
• यदि 1.60 लाख से अधिक का लोन लेना है तो खेत के कागजात जैसे बारहसाला की जरूरत भी पड़ती है। जो तहसील से भूमि का बारह साल का रिकॉर्ड होता है।
• एक एफिडेविट जिसमें यह लिखा हो कि आपने किसी अन्य बैंक से केसीसी लोन नहीं ले रखा है। जिसे Nodues भी कहा जाता है।
• आप कौन सी फसल बोने जा रहे हैं इसकी जानकारी भी बैंक को देनी होगी।
• अपने क्षेत्र के लेखपाल के द्वारा सत्यापित एक नकल की आवश्यकता भी पड सकती हैं। जिससे साबित होगा कि आप इतने कृषि भूमि के स्वामी हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड को किस काम के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं?

किसान क्रेडिट कार्ड लोन को निम्न कार्यो के लिए इस्तेमाल किया जा सकता हैं-

• कृषि संबंधी कीटनाशक खरीदने के लिए
• खाद सामग्री खरीदने के लिए
• बीज खरीदने के लिए
• मछली पालन खर्च के लिए
• मूर्गी पालन खर्च के लिए
• पशुपालन खर्च के लिए।
• इनके अलावा और भी कृषि संबंधी खर्चों पर इस लोन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- Simply Cash Loan App Review In Hindi | Simplycash Hero Fincorp Personal Loan

KCC Loan कहां से लिया जा सकता है?

केसीसी के लिए आप इनसे संपर्क कर सकते हैं।
को-ऑपरेटिव बैंक
क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI)
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI)
बैंक ऑफ इंडिया
इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया (IDBI) आदि

किसान क्रेडिट कार्ड कैसे अप्लाई करें?

• किसान क्रेडिट कार्ड लेने के लिए सबसे पहले केसीसी आवेदन पत्र को डाउनलोड करना है। जिसे आप pmkisan.gov.in से डाउनलोड कर सकते हैं।
• आवेदन पत्र को भरकर नजदीकी बैंक शाखा मे जाकर केसीसी के लिए अप्लाई करना है।
• इसके साथ जरूरी दस्तावेज भी लगाने होते हैं जैसे पेनकार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, व एक सपथ पत्र जिसमें बताया गया हो कि आपने किसी अन्य बैंक से लोन नहीं ले रखा है।
• बैंक आपसे कुछ सवाल भी कर सकता है जिसकी संतुष्टि के बाद लोन अप्रुव कर दिया जाता है।
• केसीसी लोन के लिए बैंक आपका एक नया अकाउंट खोलता है।
• कुछ समय के बाद लोन की रकम केसीसी अकाउंट में आ जाती हैं।

केसीसी लोन के फायदे व विशेषताएं

• इस कार्ड के लिए तीन लाख रुपए तक का लोन लिया जा सकता हैं।
• किसान क्रेडिट कार्ड के लिए प्रोसेसिंग फीस मे भी छूट दी जाती है।
• किसान क्रेडिट कार्ड लोन पर राज्य सरकार व केन्द्र सरकार दोनों सब्सिडी देती है। जिससे यह लोन बहुत कम ब्याज दर पर मिल जाता हैं।
• केसीसी लोन पर बहुत कम यानि केवल 4 प्रतिशत ब्याज दर लगती है।
• केसीसी लोन कोई भी किसान भाई ले सकता हैं।
• किसान क्रेडिट कार्ड लगभग हर बैंक से मिल जाता हैं।
• इस लोन को एक साल के भीतर चुकाने पर केवल 4 प्रतिशत ब्याज देना होता है।
• जब आप एक साल के भीतर संपूर्ण लोन चुका देते हैं तो अगली साल के लिए आपको 10 प्रतिशत अधिक लोन मिल जाता है वो भी समान ब्याज दर पर।
• केसीसी लोन अब पशुपालन व्यवसाय के लिए भी मिल जाता है। जैसे मूर्गी पालन, बकरी पालन, मछली पालन आदि।
• इस लोन पर कोई अतिरिक्त छुपी हुई शुल्क नहीं होती है।

केसीसी ऋण लेते समय किन बातों का ध्यान रखें?

• सबसे पहले आप किसान क्रेडिट कार्ड लोन का इस्तेमाल कृषि कार्यों के लिए ही करें।
• अपनी जरूरत के हिसाब से ही लोन ले जिससे लोन चुकाने मे कोई परेशानी ना आए।
• यदि आप 1.60 लाख तक का लोन लेते हैं तो आपको अपनी जमीन को गिरवी रखने की आवश्यकता नहीं होती है।
• 1.60 लाख से ज्यादा लोन लेने पर बैंक आपकी जमीन को बंधक बना लेता है।
• 3 लाख से अधिक का लोन लेने पर आपको 7 प्रतिशत ब्याज दर चुकानी पड़ती है।
• केसीसी लोन एक साल के अंदर चुकाने पर केवल 4 प्रतिशत ब्याज लगता है और यदि आप एक साल के भीतर पूरा लोन नहीं चुकाते हैं तो आपको अतिरिक्त ब्याज भी देना पड़ता है।
• यदि आपने पहले भी कोई कृषि लोन ले रखा है जो अभी भी चल रहा है तो आप उसकी जानकारी केसीसी लोन लेते समय बैंक को जरूर दें।
• जो किसान सम्मान निधि से जुड़े हुए हैं तो केसीसी लोन लेना आसान हो जाता है।

किसान क्रेडिट कार्ड लोन न चुकाने पर क्या होगा?

• यदि किसान क्रेडिट कार्ड लोन को समय पर न चुकाया जाए तो सबसे बड़ा नुक़सान यह है कि इसपर केन्द्र सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी को हटा दिया जाता है। जिससे अतिरिक्त ब्याज दर देनी पड़ती है।
• यदि लोन को सही समय पर न चुकाया जाये तो दोबारा लोन मिलना बहुत मुश्किल हो सकता है।
• यदि आपने काफी समय से लोन का भुगतान नहीं किया है तो बैंक आपको लोन चुकाने के लिए नोटिस भेज सकता है।
• लोन लेते समय बैंक आपकी जमीन को बंधक बना लेता है। जब तक आप लोन का भुगतान नहीं देते हैं तब तक आप उस जमीन को बेच नहीं सकते हैं।
• यदि लोन की जमीन सरकार द्वारा अधिग्रहण की जाती है तो लोन की सारी रकम व ब्याज काटकर बचा हुआ मुआवजा ही आपको दिया जाएगा।

किसान क्रेडिट कार्ड हेल्पलाइन नंबर

केसीसी हेल्प लाइन नंबर 0120-6025109

ईमेल- pmkisan-ict@gov.in

आप हेल्प लाइन नंबर व ईमेल के माध्यम से किसान क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी ले सकते हैं। यदि आपको कोई समस्या या शिकायत है तो भी आप इन्ही संपर्क सूत्रों पर संपर्क कर सकते हैं।

यदि आप Kisan Credit Card Loan लेना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट को पढ़ने के बाद KCC Loan के बारे मे जान चुके होंगे। हमने इस पोस्ट मे KCC लोन के बारे सारी जानकारी शेयर की है। जैसे KCC Loan Kitna Milta Hai, केसीसी लोन पर कितना ब्याज लगता है, केसीसी लोन कैसे अप्लाई किया जाता है। इसके साथ केसीसी लोन की विशेषताएं, फायदें और सावधानियां भी बताई हैं। उम्मीद करता हूं आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी और ये जानकारी आपके लिए उपयोगी है। आप इस पोस्ट को दूसरों के पास भी शेयर कर सकते हैं जिससे उन्हें भी केसीसी लोन के बारे संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो सकें। ऐसे ही लोन से संबंधित जानकारी पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेजटेलीग्राम चेनल को ज्वाइन कर सकते हैं जहां हम लोन से संबंधित जानकारी शेयर करते रहते हैं। इस पोस्ट मे बस इतना ही। धन्यवाद

इन्हे भी पढ़ें- बंधन बैंक पर्सनल लोन कैसे ले | Bandhan Bank Bank Personal Loan Details In Hindi

Home Credit Se Personal Loan Kaise Le | Home Credit Loan Apply Kaise Kare

फेसबुक से बिजनेस लोन कैसे लें | 5 लाख से 50 लाख तक का बिजनेस लोन

FD एफडी पर लोन कैसे लिया जाता है, Fixed Deposit लोन क्या होता है, पूरी जानकारी

Capital Now Personal Loan Apply Kaise Kare, CapitalNow Loan App Review In Hindi

Leave a Reply