पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम: इंसान ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाने के नये नये तरीके खोजता रहता हैं। यह बात बिल्कुल सही भी हैं कि हमें पैसे कमाने के नये तरीकों की खोज करनी चाहिए। बहुत से ऐसी स्कीम हैं जिसमें पैसा निवेश करना काफी फायदेमंद होता हैं। मगर आज हम एक ऐसी स्कीम के बारे में बताने वाले हैं जिसमें आपकी रकम डबल होगी।
जी हां इस स्कीम मे आपके द्वारा निवेश की गई रकम दोगुनी हो जाएगी। मगर इसके लिए आपको स्कीम के बारे में जानकारी होना जरूरी हैं। हम आपको आज पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम के बारे में बताएंगे। इस स्कीम का नाम किसान विकास पत्र हैं। इस स्कीम में निवेश करने पर आपको क्या फायदे होंगे और क्या नुकसान होगें इसे हम अपने आर्टिकल में बताएंगे और साथ ही बताएंगे कि पोस्ट ऑफिस द्वारा डबल मनी स्कीम में निवेश कैसे करें।

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम 2022, post office double money plan, kisan Vikas Patra in Hindi
पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम
इस पोस्ट में आप पढ़ सकते हैं

डबल मनी स्कीम क्या हैं, किसान विकास पत्र स्कीम क्या हैं

किसान विकास पत्र स्कीम को ही डबल मनी स्कीम के नाम से भी जाना जाता हैं। इस स्कीम मे निवेश करने पर एक सर्टीफिकेट दिया जाता हैं। इस स्कीम को पहले सिर्फ किसानों के लिए बनाया गया था मगर अब इस स्कीम में कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता है। डबल मनी स्कीम में निवेश करके आप अपनी रकम को डबल कर सकते हैं। किसान विकास पत्र स्कीम मे किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस के माध्यम से निवेश किया जा सकता हैं। इसकी अवधि या मेच्योरिटी अवधि ब्याज दर पर ही निर्भर करती हैं।
दरअसल इस स्कीम में पैसा ब्याज के रूप में ही डबल होता हैं। जिस अवधि में ब्याज जमा मूलधन के बराबर हो जाता हैं वही स्कीम की मेच्योरिटी अवधि मानी जाती हैं। इस स्कीम में कितने दिनों में पैसा डबल होता हैं इसके बारे में हम आपको विस्तार से बताने वाले हैं। साथ ही इस स्कीम की जरूरी जानकारी जो आपको मालूम होनी चाहिए। ये सब हम इसी आर्टिकल में बताएंगे।

डबल मनी स्कीम मे कितनी रकम निवेश की जा सकती हैं।

किसान विकास पत्र (डबल मनी स्कीम) में आप एक बार में ही सारा पैसा जमा कर सकते हैं।
• इसके लिए आपके पास एकमुश्त रकम होना चाहिए। जिसे निवेश करके आप दोगुना कर सकते हैं।
• इस स्कीम में आप कम से कम 1000 रूपए जमा कर सकते हैं।
• अधिकतम राशि जमा करने की कोई सीमा नहीं हैं।

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम आवश्यक दस्तावेज

• Identity Proof: आधार कार्ड, पेनकार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, आदि मे से कोई एक होना चाहिए।
• Address Proof: आधार कार्ड, पासपोर्ट, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, निवास प्रमाण पत्र आदि मे से कोई एक होना चाहिए।
• पासपोर्ट साइज फोटो (हाल ही में खींचे गए फोटोग्राफ्स)
• 50000 रूपए से ज्यादा रकम निवेश करने के लिए पेनकार्ड होना जरूरी होता हैं।
10 लाख रुपए से अधिक रकम निवेश करने पर इनकम प्रुफ भी दिखाना अनिवार्य होता हैं। जैसे- सैलरी स्लिप, बैंक स्टेटमेंट, ITR Documents आदि

Post Office Double Money Scheme Eligibility

• इस स्कीम में 18 से 60 साल का कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता हैं।
• नाबालिग के लिए उनके अभिभावक भी इस स्कीम में खाता खुलवा सकते हैं।
10 साल से ज्यादा उम्र के नाबालिग इस स्कीम में अपने नाम पर खाता खुलवा सकते हैं व खुद ही लेन-देन कर सकते हैं।
Single Account या फिर Joint Account भी खोला जा सकता हैं।
NRI इस स्कीम में अकाउंट नहीं खुलवा सकता हैं।
• इस स्कीम में निवेश करने के लिए किसी बैंक मे अकाउंट होना अनिवार्य नहीं हैं।

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम में कैसे निवेश करें

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम में निवेश करने के लिए आपको इसकी Eligibility Criteria व जरूरी दस्तावेजों के बारे में पता चल गया होगा।
अब बारी आती हैं कि पोस्ट आफिस डबल मनी स्कीम में कैसे निवेश किया जाता हैं।
• आप अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस में जाकर किसान विकास पत्र के लिए आवेदन फार्म लेना हैं।
• आवेदन फार्म को भरकर, सभी जरूरी दस्तावेजों को भी आवेदन के साथ लगा देना हैं
• आवेदन फार्म को पोस्ट ऑफिस में जमा करना हैं। पोस्ट ऑफिस कर्मचारी आपके आवेदन की जांच करते हैं।
• आपकी केवाईसी भी की जाती हैं। जिसके लिए आपको अपनी आईडी देनी होती हैं। जैसे- आधार कार्ड, पेनकार्ड आदि।
• एक बार आपके सभी दस्तावेजों की जांच हो जाती हैं। तो आपको एकमुश्त रकम जमा करनी होती हैं।
• रकम जमा करने के बाद आपको किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Certificate) दे दिया जाता हैं।
चेक, ड्राफ्ट से रकम जमा करने पर आपको रकम का भुगतान होने तक इंतजार करना पड़ सकता हैं। रकम का भुगतान होने पर आपका किसान विकास पत्र स्कीम के तहत खाता खुल जाता हैं।
(किसान विकास पत्र मे आपके द्वारा जमा की गई राशि, किसान विकास पत्र संख्या, मेच्योरिटी अवधि, आदि दर्ज की होती हैं। एकबार इन सबकी जांच कर लेनी चाहिए)

इसे भी पढ़ें- पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में कितना लाभ होता हैं, ब्याज दर व स्कीम की अवधि क्या है

डबल मनी स्कीम में पैसा कितने दिनों में डबल होता हैं

डबल मनी स्कीम में जमा रकम को डबल होने में कितना समय लगेगा यह लागू ब्याज दर पर निर्भर करता हैं। यदि ब्याज दर अधिक रहती हैं तो रकम को डबल होने में कम समय लगेगा। और यदि ब्याज दर कम रहती हैं तो रकम डबल होने के लिए अधिक समय लगेगा।
इसी कारण इसकी मेच्योरिटी अवधि ब्याज दर के हिसाब से ही तय होती हैं।
पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम की मौजूदा वार्षिक ब्याज दर 6.9 प्रतिशत हैं।
इस स्कीम की खास बात ये भी है कि इस स्कीम में सालाना चक्रवृद्धि ब्याज भी मिलता हैं। इसी ब्याज दर से पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम में पैसा जमा करने पर 10 साल 4 महीने (124 महीनों या 3737 दिन) में डबल होगा।

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम कैलकुलेशन (Post Office Double Money Scheme Calculator)

यदि आप पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम में 500000 रूपए जमा करते हैं। जिसपर 6.9 प्रतिशत सालाना चक्रवृद्धि ब्याज दर हैं तो पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम की गणना हम इस प्रकार कर सकते हैं। इससे आप अपनी निवेश की गई रकम में सालाना बढ़ोत्तरी को समझ सकते हैं।

स्कीम की अवधिब्याज की रकम
(रूपए)
कुल रकम
(रूपए)
शुरुआत (0 दिन)0500000
12 महीने34500534500
24 महीने7138057380
36 महीने110806610806
48 महीने152951652951
60 महीने198005698005
72 महीने246167746167
84 महीने797653297653
96 महीने352691852691
108 महीने911527411527
120 महीने974422474422
124 महीने996834496834
124 महीने
17 दिन
1000009500009
Post Office Double Money Scheme Calculator

इस तरह से यदि आप पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम में 5 लाख रूपए निवेश करते हैं तो आपको लगभग 124 महीने बाद डबल रकम मिलेगी।
नोट: यह सभी आंकड़े मौजूदा ब्याज दर के हिसाब से हैं यदि स्कीम मे निवेश करते समय ब्याज दर में कोई बदलाव होता हैं तों मेच्योरिटी अवधि व ब्याज रकम में भी बदलाव हो सकता हैं।

डबल मनी स्कीम किसके लिए बहतर हो सकती हैं?

वैसे तो इस स्कीम में कोई भी व्यक्ति अपनी रकम निवेश कर सकता है। मगर फिर भी कुछ स्थिति में यह स्कीम अच्छी साबित हो सकती हैं।
• एकमुश्त रकम होने पर इस स्कीम में पैसा निवेश किया जा सकता हैं।
• जो लोग अपने पैसा को बिना रिस्क के निवेश करना चाहते हैं वो अपना पैसा इस स्कीम में निवेश कर सकते हैं। क्योंकि इस स्कीम में कोई रिस्क नहीं रहता हैं।
• जो लोन अपनी निवेश की रकम को गारंटी के साथ डबल करना चाहते हैं उनके लिए भी यह स्कीम अच्छा विकल्प हो सकती हैं।

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम की विशेषताएं

• पोस्ट ऑफिस डबल मनी प्लान में कोई भी अपना पैसा निवेश कर सकता हैं।
• इस स्कीम में किसी प्रकार का रिस्क नहीं रहता हैं
• कोई भी ट्रस्ट इस स्कीम में निवेश कर सकता हैं।
• किसान विकास पत्र स्कीम में निवेश करने पर गारंटीड रिटर्न मिलता हैं।
• इस स्कीम में 6.9 प्रतिशत ब्याज दर मिलता हैं जो प्रति वर्ष चक्रवृद्धि होता हैं।
• किसान विकास पत्र को आप सिक्योरिटी के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
• इस स्कीम में नाॅमिनी दर्ज करने का विकल्प भी होता हैं।
• खाता खुलवाना बहुत आसान होता हैं।
• किसी भी पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाया जा सकता हैं।
• पैसे जमा करते वक्त तुरंत आपको किसान विकास पत्र मिल जाता हैं।
• किसान विकास पत्र खाते को किसी अन्य शाखा में भी ट्रांसफर कर सकते हैं।
• आप अपने नाम के किसान विकास पत्र को किसी अन्य व्यक्ति के लिए भी ट्रांसफर कर सकते हैं मगर ऐसा करना सिर्फ कुछ ही मामलों में मान्य होता हैं।
• बाजार के उतार चढ़ाव का इस स्कीम पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता हैं। इसमें निवेश की गई राशि पर गारंटीड रिटर्न मिलता हैं।

इसे भी पढ़ें- किसान क्रेडिट कार्ड के फायदें क्या क्या होते हैं | KCC Loan की विशेषताएं

डबल मनी पत्र से कितना लोन मिल सकता हैं

किसान विकास पत्र स्कीम की एक खास बात यह भी हैं कि इसके सर्टिफिकेट को सिक्योरिटी या कोलैटरल की तरह इस्तेमाल किया जा सकता हैं। जिससे आप लोन भी ले सकते हैं।
दरअसल बैंक लोन देने से पहले कोई कोलैटरल या प्राॅपर्टी को सिक्योरिटी के तौर पर रखता है। जिसके बाद लोन दिया जाता हैं।
किसान विकास सर्टिफिकेट को भी लोन लेने के लिए कोलेटरल/सिक्योरिटी की तरह इस्तेमाल किया जा सकता हैं। बैंक किसान विकास सर्टिफिकेट को गिरवी रखकर लोन मुहैया करा देता है।
लोन की राशि पूर्ण रूप से बैंक पर निर्भर करती हैं कि वह आपके लिए कितना लोन मंजूर करता हैं। फिर भी आपको अपनी किसान विकास पत्र स्कीम में जमा राशि का 75 प्रतिशत लोन मिल सकता हैं।

डबल मनी स्कीम में टैक्स में छूट मिलती है या नहीं

इस स्कीम में निवेश की गई रकम पर बनने वाले ब्याज पर टैक्स में छूट नहीं मिलती हैं। आयकर अधिनियम 80 सी के तहत स्कीम से की गई इनकम पर टैक्स छूट का प्रावधान नहीं हैं अर्थात इस स्कीम से होने वाली कमाई पर टैक्स लागू होगा।

समय से पहले स्कीम बंद कर सकते हैं या नहीं

स्कीम शुरू होने से लेकर 30 महीने तक स्कीम को बंद नहीं किया जा सकता हैं। कुछ ही स्थिति में 30 महीनों से पहले किसान विकास पत्र स्कीम को बंद कराकर जमा राशि को निकाला जा सकता हैं। जैसे-
यदी अकाउंट होल्डर की मृत्यु हो जाती हैं। या कोर्ट का कोई आदेश हो तो इस स्कीम को बंद किया जा सकता हैं। तथा सारा पैसा निकाला जा सकता हैं।

पोस्ट ऑफिस डबल मनी प्लान में किन बातों का विशेष ध्यान रखें?

• किसान विकास पत्र स्कीम में आपको एकमुश्त राशि जमा करनी होती हैं जिसे आप लंबी अवधि के लिए निवेश करने वालें है। इसलिए पहले ही सुनिश्चित कर लें कि आप इतने दिनों तक कितनी रकम निवेश कर पाएंगे।
किसान विकास पत्र स्कीम में आपको नाॅमिनी दर्ज करने का विकल्प भी मिलता हैं। इसलिए अपने आवेदन में नाॅमिनी ज़रूर दर्ज करें।
• नाॅमिनी का चुनाव सोच समझकर करें क्योंकि आप एक बार नाॅमिनेशन मे बदलाव कर सकते हैं। इसके बाद आपको हर बदलाव के लिए 20 रूपए देने पड़ते हैं।
• किसान विकास पत्र स्कीम में आप 30 महीनों से पहले जमा राशि को नहीं निकाल सकते हैं।
पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम में लंबे समय तक निवेश करना पड़ता हैं। इसलिए आप कोई छोटी अवधि वाली स्कीम का चुनाव भी कर सकते हैं।

किसान विकास पत्र स्कीम संबंधी FAQs

• किसान विकास पत्र स्कीम में कितने समय में पैसा डबल होता हैं?

यह पूर्ण रूप से ब्याज दर पर निर्भर करता हैं। मौजूदा ब्याज दर (6.9% वार्षिक) से लगभग 10 साल चार महीने (124 महीने) में आपकी जमा रकम डबल होगी।

• क्या किसान विकास पत्र को एक शाखा से दूसरी शाखा में ट्रांसफर किया जा सकता हैं?

जी हां, आप किसान विकास पत्र खाते को किसी अन्य शाखा मे ट्रांसफर कर सकते हैं। इसके लिए जिस शाखा मे आपका अकाउंट हैं उस शाखा मे एक आवेदन देना होता हैं। जिसके बाद आपका किसान विकास पत्र खाता ट्रांसफर कर दिया जाता हैं।

• क्या किसान विकास पत्र को एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के नाम पर ट्रांसफर किया जा सकता हैं?

हां, किसान विकास पत्र में आपको यह सुविधा उपलब्ध रहती हैं कि आप अपने किसान विकास पत्र को किसी अन्य के लिए ट्रांसफर कर सकते हैं। मगर ऐसा कुछ ही Cases में हो सकता हैं। जैसे-

• यदि Account Holder किसी गंभीर बिमारी से ग्रस्त हैं या मृत्यु हो गई हैं तो ऐसे में सर्टिफिकेट ट्रांसफर किया जा सकता हैं।
• यदि कोर्ट आदेश करता हैं तो भी किसान विकास पत्र ट्रांसफर किया जा सकता हैं।
Joint अकाउंट होने पर दोनों में से कोई भी, किसी एक खाताधारक को सर्टिफिकेट ट्रांसफर कर सकता हैं।

• किसान विकास सर्टिफिकेट को ट्रांसफर करने के जरूरी दिशा-निर्देश क्या हैं?

किसान विकास सर्टिफिकेट को ट्रांसफर करने के लिए स्कीम में निवेश किये हुए कम से कम एक साल हो जाना चाहिए।
• जिस व्यक्ति के लिए सर्टिफिकेट ट्रांसफर किया जा रहा हैं वह किसान विकास पत्र के लिए पात्र (Eligible) हैं या नहीं। यदि हैं तो सर्टिफिकेट ट्रांसफर किया जा सकता हैं।
• सर्टिफिकेट सिर्फ अपने परिवार के किसी सदस्य को ही ट्रांसफर किया जा सकता हैं। जैसे- पति या पत्नी, भाई, बहन आदि।
• नाबालिग के नाम पर सर्टिफिकेट होने पर, नाबालिग के जीवित होने पर, सर्टिफिकेट किसी अन्य के लिए ट्रांसफर नहीं किया जा सकता हैं।

• क्या सर्टिफिकेट दूसरे के नाम ट्रांसफर करने के बाद भी पुराना सर्टिफिकेट मान्य होगा?

नही, यदि एक बार किसान विकास पत्र किसी दूसरे व्यक्ति को ट्रांसफर कर दिया गया है तो पुराना सर्टिफिकेट मान्य नहीं होगा।

उम्मीद करते हैं कि आपको पोस्ट ऑफिस डबल मनी प्लान (किसान विकास पत्र स्कीम) के बारे में जरूरी जानकारी मिल गई होगी। फिर भी यदि आप कोई अन्य सवाल करना चाहते हैं तो आप हमारे फेसबुक पेजटेलीग्राम चेनल से जुड़ सकते हैं। यहां हम नियमित रूप से फाइनेंस से जुड़ी जानकारी शेयर करते रहते हैं।
आपने हमारे इस आर्टिकल मे पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम के बारे जाना होगा जैसे पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम क्या हैं, इसमें कितना पैसा निवेश किया जा सकता हैं, इस स्कीम में कितने दिनों में पैसा डबल होता हैं। इनके अलावा और भी बहुत ही जानकारी जो पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम से जुड़ी हैं।
उम्मीद है आपको हमारा ये पोस्ट अच्छा लगा होगा। यदि आपको वाकई में यह पोस्ट अच्छा लगा हैं और बताई गई जानकारी आपके लिए उपयोगी है तो आप इसे शेयर करना ना भूलें। धन्यवाद

इन्हें भी पढ़ें-

पोस्ट ऑफिस आरडी (Reccuring Deposit) स्कीम क्या हैं, इसमें कितना लाभ होता हैं

Sbi Annuity Deposit Scheme In Hindi , एसबीआई मासिक आय योजना क्या है, इसके ब्याज, लाभ, लोन, मेच्योरिटी

निधि फाइनेंस कंपनी क्या है | निधि कंपनी के कार्य व नियम क्या होते हैं

Leave a Reply