Peer To Peer Lending Kya Hota Hai, Peer To Peer Personal Loan Kaisa Liya Jata Hai
आज के समय मे हर किसी के पास इतने पैसे नहीं होते हैं कि वह अपना हर काम अपने पैसों से ही कर सकें। जब पैसे की आवश्यकता होती है तो हर कोई लोन के बारे में सोचने लगता है कि कहीं से लोन के रूप में पैसे का इंतजाम हो जाये। इसीलिए आजकल बहुत सी संस्थाए लोन देने का काम कर रही हैं। क्योंकि लोन लेने के लिए लोन देने वाला भी तो होना चाहिए। Peer To Peer Lending Platform एक ऐसा प्लेटफार्म है जहां लोन देने वाला (Lender) और लोन लेने वाला (Borrower) दोनों ही उपलब्ध रहते हैं। यहां पर लोन देने वाला व लोन लेने वाला बडी आसानी से मिल जाते हैं।

Peer To Peer Lending In Hindi: आजकल लोन लेना बहुत आसान हो चुका है। बैंकिंग या नाॅन बैंकिंग दोनों तरह से लोन की सुविधा मौजूद है। जिस प्रकार लोन लेने वाले के लिए सुविधा उपलब्ध है उसी तरह लोन देने वाले को भी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए Peer To Peer Lending Platform काम करता है। यह न केवल लोन देने वाले के लिए सुविधा प्रदान करता है बल्कि लोन लेने वाले व्यक्ति के लिए भी सुविधा उपलब्ध कराता है। आइये समझते हैं पीयर टू पीयर लेंडिंग प्लेटफार्म क्या है और यह कैसे काम करता है।

पीयर टू पीयर क्या होता है, peer to peer lending Plateform kya hai
Peer To Peer Loan Kya Hota Hai

Peer To Peer Lending Platform Kya Hai?

Peer To Peer Lending Platform एक Non Banking Plateform है। जहां से लोन लिया जा सकता है। तथा यहां पर लोन दिया भी जा सकता है। इसके लिए पहले लाइसेंस लेना होता है। जिसे RBI प्रदान करता है। यहां पर अपनी जरूरत के हिसाब से लोन लिया जा सकता है। बैंक से लोन लेने के लिए अधिक समय चाहिए बल्कि पीयर टू पीयर से लोन बहुत जल्दी व आसानी से मिल जाता हैं। क्योंकि यहां लोन के लिए सीधे लोनदाता व लोन ग्राहक मे सीधा संवाद होता है। जिससे लोन मिलने मे ज्यादा समय नहीं लगता है। यह एक NBFC है। लोन से संबंधित वित्तीय लेनदेन होती है। इसे P2P Lending Plateform भी कहते हैं।

Peer To Peer Lending से कितना लोन मिलता है?

यहां पर लोन की सीमा लोन लेने वाला या लोन देने वाला तय करता है। जितनी लोन राशि पर दोनों तरफ से सहमति होती है तो उतना लोन यहां पर मिल जाता हैं। यहां पर 50 हजार से कम के लोन भी लिये जा सकते हैं।

P2P से लोन लेने मे कितना समय लगता है?

P2P लेंडिंग पर लोन मे बहुत कम समय लगता है। लोन देने वाला कर्ज लेने वाले का कुछ वेरिफिकेशन के बाद लोन मुहैया करा दिया जाता हैं। इस पूरी प्रक्रिया में 24 से 28 घंटे का समय लग सकता है। वही बैक से लोन लेने के लिए कम से कम एक सप्ताह का समय चाहिए।

कितने समय के लिए लोन मिलता है?

पीयर टू पीयर केन्द्र से लोन मिलने की समय-सीमा लगभग 3 महीने से 36 महीने की है। वही बैंक से लंबें समय के लिए लोन मिलता है। जबकि यहां पर लोन अधिकतम तीन साल के लिए ही मिलता है।

प्रोसेसिंग शुल्क और ब्याज कितना लगता है?

इस प्लेटफार्म पर प्रोसेसिंग फीस व ब्याज भी काफी कम होते हैं जिससे लोन लेने वाले को काफी फायदा रहता है। लोन पर ब्याज Lender और Borrower दोनों की सहमति से तय होता है। ज्यादातर लोन पर ब्याज बैंक द्वारा लगाए गए ब्याज से कम होता है।

कौन कौन से दस्तावेज चाहिए?

P2P पर लोन के लिए ज्यादा दस्तावेजों की आवश्यकता नहीं होती है। फिजिकल वेरिफिकेशन के बाद मोबाइल से दस्तावेज को स्केन करके भी लोन लिया जा सकता है। यह पूरी प्रक्रिया आनलाइन होती है। जिसमें बहुत कम समय लगता है।

P2P के क्या फायदे हैं?

Peer To Peer Lending Platform का इस्तेमाल कई तरह के फायदेमंद रहता है।
• इससे लोन आसानी से मिल जाता हैं।
• अच्छी क्रेडिट हिस्ट्री ना होने पर भी लोन मिल जाता हैं।
• अमूमन अम ब्याज दर पर लोन मिल जाता हैं।
• प्रोसेसिंग फीस तुलनात्मक रूप से कम होती है।
• प्रीक्लोजर फीस नही लगती है।

पीयर टू पीयर लाइसेंस कैसे बनवाया जाता है?

पीयर टू पीयर लेंडिंग प्लेटफार्म पर लोन देने या लोन लेने वाले दोनों को ही लाइसेंस की आवश्यकता होती है। इस लाइसेंस को आरबीआई जारी करता है। इसलिए इस प्लेटफार्म को काफी सुरक्षित माना जाता है। यहां किसी प्रकार की गड़बड़ी की गुंजाइश ना के बराबर होती है।

P2P Lending License के लिए आप आनलाइन RBI की वेबसाइट से फार्म डाउनलोड कर सकते हैं। फार्म को भरकर आरबीआई के आफिस में जमा करने के बाद आरबीआई के आफिसर फार्म की जांच करके आपको लाइसेंस प्रदान करता है।

इस आर्टिकल मे आपने पढ़ा पीयर टू पीयर लेंडिंग प्लेटफार्म क्या है, पीयर टू पीयर लेंडिंग प्लेटफार्म पर कितना लोन मिलता है या कितना लोन दिया जा सकता है। इसके साथ और भी बहुत सी जानकारी जो पीयर टू पीयर लेंडिंग प्लेटफार्म को समझने के लिए जरूरी है। आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बहुत कुछ सीखने को मिला होगा। उम्मीद करते हैं आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी। यदि आपको ये आर्टिकल अच्छा लगा है तो इसे शेयर करना ना भूले।

इसे भी पढ़ें- ब्रिज लोन क्या होता है? Bridge Loan In Hindi, Gap Finance Loan

मोबाइल से तुरंत लोन कैसे मिलेगा? फोन से लोन कैसे लिया जाता है?

Leave a Reply